बकस्य प्रतिकार: Class 6 संस्कृत Chapter 7 Translation in Hindi – English ( व्याख्या ) – रुचिरा NCERT Solution

NCERT Solution of Class 6 Sanskrit रुचिरा बकस्य प्रतिकार: शब्दार्थ for Various Board Students such as CBSE, HBSE, Mp Board,  Up Board, RBSE and Some other state Boards. Class 6 Sanskrit all Chapters NCERT Solution with शब्दार्थ, व्याख्या, Translation in Hindi and English, अभ्यास के प्रश्न उत्तर and important Question answer ncert solution.

Also Read: = Class 6 Sanskrit रुचिरा NCERT Solution

NCERT Solution of Class 6th Sanskrit Ruchira /  रुचिरा  Chapter 7 बकस्य प्रतिकार: / bakasy pratikaar Word meaning / शब्दार्थ Solution.

बकस्य प्रतिकार: Class 6 Sanskrit Chapter 7 शब्दार्थ

  1. एकस्मिन् – एक।
  2. वने – वन में।
  3. शृगालः – सियार।
  4. बकः – बगुला।
  5. च – और।
  6. निवसतः स्म – रहते थे।
  7. तयोः – उन दोनों की।
  8. मित्रता – दोस्ती।
  9. आसीत् – थी।
  10. एकदा – एक बार।
  11. प्रातः – सुबह के समय।
  12. शृगालः – सियार।
  13. बकम् – बगुले को।
  14. अवदत् – बोला।
  15. मित्र – दोस्त।
  16. श्वः – कल (आने वाला)।
  17. त्वं – तुम।
  18. मया – मेरे।
  19. सह – साथ।
  20. भोजनं – भोजन।
  21. कुरु – करो।
  22. शृगालस्य – सियार के।
  23. निमन्त्रणेन – निमंत्रण से।
  24. बकः – बगुला।
  25. प्रसन्नः – खुश।
  26. अभवत् – हो गया।
  27. अग्रिमे – अगले।
  28. दिने – दिन।
  29. सः – वह।
  30. भोजनाय – भोजन के लिए।
  31. शृगालस्य – सियार के।
  32. निवासम् – निवास स्थान पर।
  33. अगच्छत् – गया।
  34. कुटिलस्वभावः – कुटिल स्वभाव वाले।
  35. शृगालः – सियार ने।
  36. स्थाल्यां – थाली में।
  37. बकाय – बगुले के लिए।
  38. क्षीरोदनम् – खीर।
  39. अयच्छत् – दी।
  40. बकम् – बगुले को।
  41. अवदत् – बोला।
  42. च – और।
  43. मित्र – दोस्त।
  44. अस्मिन् – इस।
  45. पात्रे – बर्तन में।
  46. आवाम् – हम दोनों।
  47. अधुना – अब।
  48. सहैव – साथ ही।
  49. खादाव: – खाएंगे।
  50. भोजनकाले – भोजन खाते समय।
  51. बकस्य – बगुले की।
  52. चञ्चुः – चोंच।
  53. स्थालीत: – थाली से।
  54. भोजनग्रहणे – भोजन ग्रहण करने में।
  55. समर्था – समर्थ।
  56. न – नहीं।
  57. अभवत् – हुई।
  58. अतः – इसीलिए।
  59. बकः – बगुले ने।
  60. केवलं – केवल।
  61. क्षीरोदनम् – खीर को।
  62. अपश्यत् – देखा।
  63. शृगालः – सियार।
  64. तु – तो।
  65. सर्वं – सारी।
  66. क्षीरोदनम् – खीर को।
  67. अभक्षयत् – खा गया।
  68. शृगालेन – सियार के द्वारा।
  69. वञ्चितः – ठगा गया।
  70. बक: – बगुले ने।
  71. अचिन्तयत् – सोचा।
  72. यथा – जैसा।
  73. अनेन – इसके द्वारा।
  74. मया – मेरे।
  75. सह – साथ।
  76. व्यवहारः – व्यवहार।
  77. कृतः – किया गया।
  78. तथा – वैसा ही।
  79. अहम् – मैं।
  80. अपि – भी।
  81. तेन – उसके।
  82. सह – साथ।
  83. व्यवहरिष्यामि – व्यवहार करूंगा।
  84. एवं – ऐसा।
  85. चिन्तयित्वा – सोच कर।
  86. सः – वह।
  87. शृगालम् – सियार से।
  88. अवदत् – बोला।
  89. मित्र – दोस्त।
  90. त्वम् – तुम।
  91. अपि – भी।
  92. श्वः – कल।
  93. सायं – शाम को।
  94. मया – मेरे।
  95. सह – साथ।
  96. भोजनं – भोजन।
  97. करिष्यसि – करना।
  98. बकस्य – बगुले के।
  99. निमन्त्रणेन – निमंत्रण से।
  100. शृगाल: – सियार।
  101. प्रसन्नः – खुश।
  102. अभवत् – हो गया।
  103. यदा – जब।
  104. शृगालः – सियार।
  105. सायं – श्याम के समय।
  106. बकस्य – बगुले के।
  107. निवास – घर पर।
  108. भोजनाय – भोजन के लिए।
  109. अगच्छत् – गया।
  110. तदा – तब।
  111. बक: – बगुले ने।
  112. सङ्कीर्णमुखे – संकरे मुंह वाले।
  113. कलशे – कलश में।
  114. क्षीरोदनम् – खीर।
  115. अयच्छत् – दी।
  116. शृगालं – सियार।
  117. च – और।
  118. अवदत् – बोला।
  119. मित्र – दोस्त।
  120. आवाम् – हम दोनों।
  121. अस्मिन् – इस।
  122. पात्रे – बर्तन में।
  123. सहैव – साथ ही।
  124. भोजनं – भोजन।
  125. कुर्व: – करेंगे।
  126. बकः – बगुले ने।
  127. कलशात् – कलश में।
  128. चञ्च्वा – चोंच।
  129. क्षीरोदनम् – खीर।
  130. अखादत् – खाई।
  131. परन्तु – लेकिन।
  132. शृगालस्य – सियार का।
  133. मुखं – मुंह।
  134. कलशे – कलश में।
  135. न – नहीं।
  136. प्राविशत् – आया / प्रवेश कर पाया।
  137. अतः – इसीलिए।
  138. बक: – बगुले ने।
  139. सर्वं सारी।
  140. क्षीरोदनम् – खीर।
  141. अखादत् – खाई।
  142. शृगालः – सियार ने।
  143. च – और।
  144. केवलम् – केवल।
  145. ईर्ष्यया – ईर्ष्या से।
  146. अपश्यत् – देखता रहा।
  147. शृगालः – सियार ने।
  148. बकं – बगुले के।
  149. प्रति – साथ।
  150. यादृशं – जैसा।
  151. व्यवहारम् – व्यवहार।
  152. अकरोत् – किया।
  153. बकः – बगुले ने।
  154. अपि – भी।
  155. शृगालं – सियार के।
  156. प्रति – साथ।
  157. तादृशं – वैसा ही।
  158. व्यवहारं – व्यवहार।
  159. कृत्वा – करके।
  160. प्रतीकारम् – बदला।
  161. अकरोत् – लिया।
  162.  उक्तमपि – कहा भी गया है।
  163.  आत्मदुर्व्यवहारस्य – अपने द्वारा किए गए बुरे व्यवहार का।
  164. फलं – परिणाम।
  165. भवति – होता है।
  166. दुःखदम् – दुखद।
  167. तस्मात् – इसलिए।
  168. सद्व्यवहर्तव्यं – अच्छा व्यवहार ही किया जाना चाहिए।
  169. मानवेन – मनुष्य के द्वारा।
  170. सुखैषिणा – सुख चाहने वाले।

Leave a Comment

error: cclchapter.com