उत्साह, अट नहीं रही है Class 10 Hindi Chapter 5 Important Question Answer – क्षितिज भाग 2

NCERT Solution of Class 10 Hindi क्षितिज भाग 2  उत्साह, अट नहीं रही है Important  Question Answer for Various Board Students such as CBSE, HBSE, Mp Board,  Up Board, RBSE and Some other state Boards. We also Provides पाठ का सार और महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर for score Higher in Exams.

Also Read: – Class 10 Hindi क्षितिज भाग 2 NCERT Solution

NCERT Solution of Class 10th Hindi Kshitij bhag 2/  क्षितिज भाग 2 Kavita उत्साह, अट नहीं रही है / Utsah, At Nahi Rahi Hai  Important Question And Answer ( महत्वपूर्ण प्रश्न ) Solution.

उत्साह, अट नहीं रही है Class 10 Hindi Chapter 5 महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर

प्रश्न 1. कविता में बादल किन-किन अर्थों की ओर संकेत करता है ?

उत्तर – कविता में बादल ललित कल्पना और क्रांति चेतना की ओर संकेत करता है। यह एक तरफ पीड़ित-प्यासे लोगों की आशाओं और आकांक्षाओं को पूरा करने वाला है तो दूसरी तरफ वह नई कल्पना और नए अंकुर के लिए विध्वंस, विप्लव और क्रांति-चेतना की ओर संकेत करता है।

प्रश्न 2. कवि की आँख फागुन की सुंदरता से क्यों नहीं हट रही है ?

उत्तर – फागुन की सुंदरता कण कण में समाई हुई है। उसकी सुगंध के द्वारा प्रकृति का कोना कोना महक रहा है। वही कवि के मन में तरह-तरह की कल्पनाएं भर रहा है। उसने विशेष आकर्षण है। जिसकी वजह से कवि अपनी आंख नहीं हटाना चाहता।

प्रश्न 3. फागुन में ऐसा क्या होता है जो बाकी ऋतुओं से भिन्न होता है ?

उत्तर – फागुन का महीना खुशी से भरा होता है। चारों और पेड़ पौधे की शाखाएं हरे हरे पत्तों से लग जाती है। चारों तरफ रंग बिरंगे फूलों की बहार सी छा जाती है। इस ऋतु में ना गर्मी होती है और ना ही सर्दी। इस ऋतु में ना बारिश होती है और ना ही पत्ते झड़ते हैं। यह सब चीजें सबको खुशी प्रदान करते हैं।

प्रश्न 4. कवि ने बादलों की सुंदरता के लिए क्या उपमान चुना है ?

उत्तर – कवि ने बादलों की सुंदरता के लिए बादलों को सुंदर काले घुंघराले बालों के समान माना है, जो नन्हें बालकों की कल्पना के समान पाले गए हैं। बादलों के अंतर में छिपी बिजली चमक-चमक कर उन की शोभा को और भी अधिक आकर्षक बना देती है।

प्रश्न 5. बादल से मानव जीवन को क्या प्रेरणा मिलती है ?

उत्तर – कवि ने बादलों को मानव जीवन को हरा भरा बनाने वाला मानते हुए मनुष्य को सामाजिक क्रांति के लिए प्रेरणा दी है। जिस प्रकार बादल सबको एक समान रूप से बारिश का जल देकर सबकी प्यास बुझाते हैं और धरती को अनाज उपजाने योग्य बनाते हैं। वैसे ही मानव को भी सामाजिक जीवन में कठिनाइयों को दूर कर सुख और समृद्धिपूर्ण जीवन जीने के लिए प्रेरित करते हैं।

1 thought on “उत्साह, अट नहीं रही है Class 10 Hindi Chapter 5 Important Question Answer – क्षितिज भाग 2”

  1. I feel very better after seeing all questions i saw that all the questions are good and better skill based questions 😃☺️

    Reply

Leave a Comment

error: cclchapter.com